Search for a Hindi Christian Song Lyrics

This song has been viewed 6408 times.
Song Category:
जो क्रूस से लहू, बहा मेरे लिए (2

जो क्रूस से लहू, बहा मेरे लिए (2)
काफ़ी है वो मेरे गुनाह, ढोने के लिए (2)

दुखो को मेरे वो उठा लिया
अपराधो के कारण वो घायल हुआ (2)
मेरी शांति के लिए, उसपर ताड़ना पड़ी
उस के कोडे खाने से ही, चंगा मैं हुआ…
जो क्रूस से………..

कटोरे को उसने उठा कर कहा
मेरे लहू मैं यही एक नयी वाचा (2)
जो बहाया ए जहा, मेरे गुनाहो के लिए
उस पर से जो भी पिए, कभी ना मरेगा…
जो क्रूस से………..



Current Rating :4
Total Votes :50
jo krus se lahu, baha mere liye (2)

jo krus se lahu, baha mere liye (2)
kafi hai wo mere gunah, dhone ke liye (2)

dukho ko mere wo utha liya
apradho ke karan wo ghayal hua (2)
meri shanti ke liye, uspar tadna padi
us ke kode khane se hi, changa main hua…
jo krus se………..

katore ko usne utha kar kaha
mere lahu main yahi ek nayi vacha (2)
Jo bahaya e jaha, mere gunaho ke liye
us par se jo bhi piye, kabhi na marega…
jo krus se………..



Contact Us |  Home | Submit a Song | Request a Song

 

 

Videos/MP3 for Song:जो क्रूस से लहू, बहा मेरे लिए (2(jo krus se lahu, baha mere liye (2))
Chords for Song:जो क्रूस से लहू, बहा मेरे लिए (2(jo krus se lahu, baha mere liye (2))
Did you spot a mistake ? Do you have more information on this song? Please share your comments below